Benefits of Books reading इसके बारे में जानना बहुत जरुरी हैं, क्योंकि इसके बारे में जितना जल्दी जान लेंगे उतना ही जल्दी आप अपने जीवन को एक सही और निर्धारित दिशा दे पाएंगे। किताबे हमारे जीवन को सही जीने का आधार देती हैं।

किताबे हम सब के जीवन का एक अहम् हिस्सा हैं। यदि किताबे ना होती तो शायद बहुत ही बातों से रूबरू ना हो पाते हैं। किताबे पढ़ना बहुत ही जरुरी हैं। बचपन से लेकर बुढ़ापे तक आपको किताबों से अपनी दोस्ती रखनी चाहिए, क्योंकि किताबें आपको ज्ञान तो देंगी ही उसके साथ -साथ जीवन के प्रति आपके मन में postiveness को भी भर देंगी।

Benefits of Books reading
Benefits of Books reading

किताबें पढ़ने के फायदे

हम सब कही ना कही किताबें पढ़ने के महत्व से अनजान हैं, इसीलिए सिर्फ उतना ही पढ़ते और समझते हैं जिससे हम सिर्फ एक अच्छी डिग्री ले सके, और जैसे ही हम किसी भी विषय में डिग्री ले लेते हैं तो अपने आप को मास्टर समझने की भूल करने लगते हैं और पढाई लिखाई से कोसो दूर हो जाते हैं।

किताब में आपके हर सवाल का जवाब हैं इसलिए अपने ज्ञान को बढ़ाते रहिये और नीच बताये गये किताबों को पढ़ने के फायदे को समझिये।

मानसिक रूप से शांति और सुकून

लाइफ में ना जाने कितने ऐसे अनचाहे पल आते हैं जब हम अपने आप में बिलकुल दुखी और अकेला महसूस करते हैं, पर यदि आप किताबें पढ़ते हैं तो कही ना कही आप अपने मन और लाइफ दोनों का मार्गदर्शक कर सकते हैं। किताबें जरूर पढ़िए फिर चाहे वह कैसी भी हो चाहे आध्यात्म से जुडी हो, या फिर मोटिवेशनल किताबें हो और फिर चाहे आपके कोर्स ही क्यों ना हो।

जब भी किताब पढ़ते हैं तो एक अलग ही दुनिया में पहुंच जाते हैं और वास्तव में आप उसे फील करने लगते हैं।

तनाव मुक्त जीवन

किताबें ज्ञान का सागर होती हैं, आज दुनिया में वही व्यक्ति दुखी हैं जो अज्ञानी हैं। यदि वास्तव में आप अपनी लाइफ को अच्छे समझना चाहते हैं तो महान लोगो द्वारा लिखी गयी किताबें पढ़िए और उनका अनुशरण करिये।

किताबों से आपको ज्ञान मिलेगा, आज जो लोग भी अच्छी -अच्छी बातें बोलते हैं वह सिर्फ इस कारण क्योंकि उन्होंने लगातार अच्छी – अच्छी किताबों को पढ़ा हैं और उनके मूल्यों को समझा और समय आने पर परखा भी हैं।

ज्ञान की बढ़ोतरी

एक कहावत हैं की कोई भी पेट से सीख कर नहीं आता हैं। हम सब अच्छा और बुरा इसी दुनिया में सीखते और करते हैं, पर अच्छा या बुरा करने का मूल कारण आपकी परवरिश और आपकी वर्तमान परिस्थितिया हैं , आप बचपन से किस माहौल में रहते हैं, इस बात का असर आपकी पूरी जिंदगी पर पड़ता हैं।

आज हम सबको खुद को भी और अपने बच्चो को भी प्रतिदिन किताबें पढ़ने के लिए प्रेरित करना चाहिए। एक तो वह अच्छे काम में बिजी भी रहेंगे और ज्ञान भी बढ़ेगा।

अनेको नए शब्दों का ज्ञान

आज life में यदि आप अपने आप को किसी भी क्षेत्र में साबित करना चाहते है तो सबसे पहले आप प्रतिदिन अपनी शब्दावली में नए शब्दों को जोड़ना शुरू कर दीजिये। शब्दों से ही आप फिर बड़े -बड़े sentences को बोलना और लिखना दोनों सीख जाएंगे। आप जितने ज्यादा शब्दों को जानेगे आपकी लिखने की और बोलने की छमता भी उतनी ज्यादा होगी।

यादास्त का अच्छा होना

आज यादास्त का कम होना एक common बात हो गयी हैं, इसका कारण यही हैं की हमने पढ़ना लिखना सब छोड़ दिया। जॉब मिल जाने के बाद या शादी हो जाने के बाद तो ऐसा लगता हैं की अब पढ़ने और लिखने की क्या जरुरत हैं , जिसका सीधा असर हमारे लाइफ पर पड़ता हैं , हम जाने – अनजाने में दुनिया से दूर हो जाते हैं।

आप जितना पढ़ेंगे उतना ही आगे बढ़ेंगे , आज बच्चो में अखबार पढ़ने की आदत डालनी चाहिए जिससे उनका ज्ञान और आत्म विश्वास दोनों बढ़ेगा। आज जो जितना पढ़ा लिखा हैं , वह उतना ही आत्म विश्वासी हैं , यदि आप को ज्ञान नहीं हैं तो आप दुनिया में हर जगह अपने आप को दबा हुआ महसूस करेंगे , इसलिए हमेशा अपने आप को अपडेट रखिये, जब तक जिंदगी हैं किताबों से जुड़े रहिये , ना की किसी मंजिल की प्राप्ति के बाद किताबें पढ़ना छोड़ दे।

जब हम किसी चीज को बार -बार पढ़ते या बोलते हैं तो इससे हमारी memory भी बढ़ती हैं और memory एक practice की तरह हैं, जितना practice करेंगे उतनी ही और बढ़ेगी।

लिखने और पढ़ने की स्किल को डेवेलोप करना

किताबें पढ़ने से आपकी लिखने की स्किल भी बढ़ जायेगी, आज ज्यादातर जो लोग लेखक या कवि हैं उसका मूल कारण बचपन से पढ़ी गयी किताबें ही हैं। आप जितना पढ़ेंगे उससे कही ज्यादा लिखने में भी माहिर हो जाएंगे।

कोई भी पूरी किताब को याद नहीं कर सकता हैं पर उसे पढ़कर वह पूरी कहानी लिख सकता हैं। सच में यदि आप पावर ऑफ़ रीडिंग समझ गये तो आप लाइफ में वह सब पा सकते हैं, जो आप चाहते हैं।

किताबें ऐसी होती हैं जहा आपके हर सवाल का जवाब आपको मिल जाएगा। हर बात आपको कोई ना समझा सकता हैं और ना ही बता सकता हैं इसलिए किताबें लिखी गयी, जिससे जब जिसको समय मिले वह अपने समय और मन के अनुसार उस किताब को पढ़ ले।

अपने लक्ष्य के लिए फोकस्ड होना

एक अच्छी किताब आपके जीवन को बदल सकती हैं , आज ना जाने कितनी अच्छी -अच्छी किताबें हैं जिनको पढ़कर आप लाइफ में और भी फोकस्ड हो सकते हैं। आपको अपने जीवन को जीने और सवारने के लिए नए -नए रास्ते मिलेंगे।

आप अपने को तो एक संतुलित लाइफ दे पाएंगे बल्कि अपने घर -परिवार वालो का भी मार्ग दर्शन करने में सक्षम होंगे। ज्यादातर जितने भी बड़े महान लोग इस दुनिया में हुए , उन सब ने कही ना कही अच्छी अच्छी किताबें पढ़कर और अपने बड़ो के अनुभवों के आधार पर ही अपने जीवन की नीव रखी।

जीवन के प्रति एकाग्रता बढ़ना

किताबें पढ़ने से आप अपने उद्देश्य पर और जीवन के प्रति एकाग्रता से बढ़ पाएंगे। यदि आपको सही ज्ञान नहीं हैं , तो आप ना ही किसी कार्य और ना किसी उद्देश्य पर एकाग्रता से काम कर पाएंगे। आपका मन और मस्तिस्क दोनों एकाग्र होकर काम करना शुरू कर देंगे। आपको knowlege में quality होगी , जब भी हम किसी काम को पूरे मन से करते हैं तो वह वास्तव में अच्छा होता हैं। किताबें पढ़ने से आपको पता होगा की आपको लाइफ में क्या करना हैं और क्या नहीं करना हैं।

Keep reading….

Share This :