How to be Stay Positive, आज दुनिया के उतार और चढ़ावो में अपने आप को हमेशा positive रखना एक बड़ा कठिन काम हैं। अक्सर हम सब कही ना कही अपने दिमाग और मन दोनों को बहुत कण्ट्रोल में रखने की कोशिश करते हैं की हम कोई भी नेगेटिव बात ना सोचे और ना बोले, पर परिस्थितियों के आगे हम सब हार जाते हैं।

सच बात हैं की कोई भी व्यक्ति जान बूझकर तो अपने मन और दिमाग में हलचल पैदा नहीं करता हैं पर कुछ बातें ऐसी होती हैं जब हम चाह कर भी किसी के बारे में पॉजिटिव बोल नहीं पाते हैं।

कभी -कभी इंसान नेगेटिव नहीं बोलता हैं वह सच बोलता हैं , और लोग उसे कुछ और ही समझ लेते हैं। यदि हम एक गलत आदमी के बारे में कोई सही बात कर रहे हैं तो भी तो लोग कहेंगे की आप नेगेटिव बोल रहे हैं। लाइफ में हमेशा पॉजिटिव रहने के लिए आपको सबसे ज्यादा अपनी सोच पर काम करना होगा। यदि आपकी सोच दिशाहीन हैं तो ऐसे में भी आप पॉजिटिव नहीं रह पाएंगे।

How to be Stay Positive

विचार के दो रूप हैं अच्छे और बुरे विचार , आप किसी के बारे में अपनी राय को जीवन भर एक जैसा नहीं रख सकते हैं, इंसान के कर्म और व्यव्हार के आधार पर ही आपके विचार बनते और बदलते हैं। लाइफ में हमे जो दिखाई और सुनाई देता हैं, उसी के आधार पर ही हमारे मन में पॉजिटिव या नेगेटिव थॉट्स पैदा होते हैं।

हर व्यक्ति जब पैदा होता हैं तो वह छोटा सा बच्चा होता हैं उसे ना अच्छा पता हैं और ना ही बुरा पता हैं। धीरे -धीरे इस समाज के लोग ही उसे अच्छे और बुरे के बारे में बताते हैं।

हर बात के दोनों पहलुओं पर ध्यान दे

जब भी आप किसी भी व्यक्ति के बारे में अपनी राय दे तो पूरी तरह से सोच समझकर दे। क्या पता आप जो बता रहे हैं वह पूरी तरह से गलत हैं। दुनिया में हर व्यक्ति हर किसी के साथ एक जैसा नहीं होता हैं। जो आपके लिए अच्छा नहीं हैं वह किसी और का बहुत प्रिय हो सकता हैं , और जो किसी का प्रिय नहीं हैं वह आपका सबसे प्रिय हो सकता हैं।

बिना सोचे समझे किसी के बारे में कुछ ना बोले , क्योंकि आपने सिर्फ एक पक्ष को देखा और सुना हैं, और किसी भी बात के निर्णय पर पहुंचने के लिए दोनों पक्षों को बराबर सुनना जरुरी हैं।

वर्तमान और भूत परिस्थितियों पर ध्यान दे

कभी -कभी कोई भी व्यक्ति इतना ख़राब नहीं होता हैं जितना की हम उसे समझ लेते हैं। लाइफ में समय सही ना हो तो राम से रावण बनने में देर नहीं लगती हैं और ये भी सच हैं की इस पूरी दुनिया में रावण भी कोई नहीं बनना चाहता हैं लेकिन फिर भी ये बलवान समय हमे क्या बनाएगा, इसकी खबर किसी को नहीं हैं।

आज कोई दान दे रहा हैं तो कोई ले रहा हैं, मतलब हर व्यक्ति आपस में कनेक्टेड हैं , इसलिए हर किसी को लाइफ में अलग -अलग अनुभवों से होकर गुजरना पड़ता हैं। जिसने लाइफ में कोई भी सुख नहीं पाया वह व्यक्ति कैसे पॉजिटिव हो सकता हैं।

खुश रहने का अभ्यास करे

आप सोचेंगे की कोई भी व्यक्ति खुश रहने का अभ्यास कैसे कर सकता हैं। लाइफ में जब आप हमेशा हर सिचुएशन में खुश रहेंगे या खुश रहने के लिए प्रयास करेंगे तो ये आपकी जिंदगी में आ जाएगा।

आपने बहुत सारे लोगो को देखा होगा की जो सुखी हैं वह दिन पे दिन और भी सुखी होते जा रहे हैं और जो दुखी हैं वह दिन पे दिन और भी दुखी होते जा रहे हैं, ये सोच और फेस का पावर हैं।

जब तक आप अपने आप को खुश नहीं समझेंगे तब तक आप दुखी ही रहेंगे। खुश रहिये और लाइफ में हमेशा हर चीज के लिए उत्साहित रहिये और फिर देखिए आप जो सोचेंगे वही पाएंगे।

पढ़े-लिखे और सभ्य लोगो के साथ रिलेशन रखे

आप जैसे लोगो के साथ रहेंगे आपकी सोच भी वैसी बनती चली जायेगी। एक व्यक्ति जो पेशे से चोर है वह दूसरे को चोरी करना ही सीखा सकता हैं। एक आलसी व्यक्ति आपको आलस सिखाएगा , एक दुखी व्यक्ति हमेशा आपसे दुःख की ही बात करेगा , एक झूठा व्यक्ति आपको सदैव झूठ बोले के लिए प्रोत्साहित करेगा, एक असफल व्यक्ति आपको सफलता से हमेशा दूर रखेगा, आप समझ चुके होंगे की बचपन से हमारे माँ -आप अच्छी संगत की क्यों बात करते थे।

अपना उठना बैठना हमेशा अपने से होशियार और पैसे वाले लोगो के साथ रखिये क्योंकि ऐसे लोगो के साथ रह कर आप बहुत कुछ सीख सकते हैं।

पहले सोचो फिर मुँह खोलो

बिना सोचे समझे कभी भी कोई भी बात ना बोले क्योंकि जब समय साथ न दे तो अच्छी बात भी कड़वी हो जाती हैं। एक दुखी व्यक्ति से यदि आप सुख की बात करेंगे तो आपको क्या मिलेगा इसका अंदाजा आप खुद ही लगा सकते हैं।

हर व्यक्ति के लिए अच्छा बोलिये क्योंकि जो लोग सही नहीं हैं और आप उन्हें कह देंगे की आपमें ये प्रॉब्लम हैं तो ऐसे लोग अपने को सुधारने के बजाय आप से नाराज हो जाएंगे। जहा आपके रिलेशन बहुत अच्छे हैं वहा पर आप अपनी राय दे सकते हैं बसर्ते की कोई आपकी राय में इंटरेस्टेड हो।

Share This :