हम सब ने सुना हैं की मन अच्छा तो सब अच्छा, लेकिन ये बात भी बिलकुल सच हैं की हमेशा खुश रहना भी आजकल आसान नहीं हैं। How to change your bad mood , ये सबको सीखना होगा, क्योंकि ऐसा कोई व्यक्ति नहीं है जो हमेशा सुख की छाँव में रहे, और हर किसी को कभी ना कभी दुःख का सामना भी करना पड़ता हैं।

जीवन में सुख और दुःख दोनों हैं, और इसलिए हम सबको हर सिचुएशन में जीना आना चाहिए। वास्तव में जिसने भी अपने mood को अपने हिसाब से चेंज करना सीख लिया, उसने जिंदगी की आधी जंग जीत ली।

आज दुनिया में ज्यादातर लोग ये सोचते हैं की वह अपने आप में परफेक्ट हैं जो की सबसे बड़ी भूल हैं। हर कोई किसी ना किसी की नजर में गलत हैं, मतलब साफ़ है की कोई भी परफेक्ट नहीं हैं, हर किसी में कोई ना कोई कमी जरूर हैं, तो सबसे पहले तो अपने बदलते mood को समझना होगा और उस पर कण्ट्रोल करना भी सीखना होगा क्योंकि दुनिया में हर कोई ना आपके हिसाब से सोचेगा और ना ही आपके हिसाब से काम करेगा, इसलिए सबके साथ कैसे रहना हैं ये जानना बहुत जरुरी हैं। ग्रुप में रहना कठिन होता हैं और अकेले रहना ज्यादा आसान होता क्योंकि अकेले में आप अपनी मर्जी के हिसाब से उठते और बैठते हैं और जब आप ग्रुप में होते हैं तो आपको सबकी सहूलियत का भी ध्यान रखना होता हैं, जो शायद ठीक भी हैं क्योंकि सच्चा व्यक्ति वही हैं जो खुद की फ़िक्र के साथ दूसरों के सुख और दुःख का भी पूरा -पूरा ध्यान रखे।

How to change your bad mood
How to change your bad mood

Mood को इंस्टेंट चेंज करने के कुछ कारगर उपाय

म्यूजिक सुने

जब भी आपका mood ख़राब हो, झट से अपने पसंद का गीत सुने, क्योंकि मन जितना जल्दी भटकता है, उतना ही जल्दी संभलता भी हैं। अक्सर देखा गया हैं की जो लोग संगीत में रूचि रखते हैं, वह अपने mood को जल्दी से ठीक कर लेते हैं, और ये भी बात सच हैं की दुनिया में शायद ही ऐसा कोई व्यक्ति होगा जिसे संगीत ना पसंद हो।

एक बात हमेशा ध्यान रखे की mood ख़राब होने पे लाइट म्यूजिक सुनना हैं, क्योंकि यदि गलत म्यूजिक लगा दिया तो आप जो चाहते हैं वह नहीं होगा बल्कि आपका मन जो चाहता हैं वह हो जाएगा। अपने वचन, मन और वाणी को हमेशा कण्ट्रोल में रखे जिससे आपकी जिंदगी में हमेशा एक मधुर संगीत बजता रहे।

बेस्ट फ्रेंड से बात करे

दुनिया में हर किसी का कोई ना कोई बेस्ट फ्रेंड कोई न कोई जरूर होता हैं जैसे किसी के लिए उसकी माँ उसकी बेस्ट फ्रेंड हैं, किसी के लिए उसकी बहन, किसी के लिए उसकी दोस्त और किसी के लिए वह खुद अपने फ्रेंड हैं, तो आपकी जिंदगी में भी कोई ना कोई जरूर होगा जिससे आप अपनी बात कहकर सबसे पहले अपने मन को शांत कर सकते हैं।

सेल्फ टॉक करे, जो काफी इफेक्टिव हैं, इससे आपका कोई नुक्सान नहीं हैं, मतलब आप जो कुछ भी कहना चाहते हैं खुलकर कह सकते हैं, और उसके बाद चिंतन और मनन भी कर सकते हैं की कहा पर आप गलत थे और कहा पर सामने वाला गलत था, जो की बहुत जरुरी हैं, यदि आप लाइफ में एक ही गलत को बार -बार करेंगे तो आप कभी खुश नहीं रह पाएंगे, अपनी और दूसरों की गलतियों से सीखे और उसे दोबारा ना करे।

घूमने चले जाए

जब माहौल और mood दोनों ठीक ना हो, तो walk पे निकल जाए। कही घूम के आये क्योंकि ये मन और आँखे जो देखती हैं, उसी माहौल में खुद को ढाल लेती हैं। जिस जगह से प्रॉब्लम हो थोड़ी देर हट जाए और जब मन ठीक हो तो उससे शांत होकर बात करे। मूड को ख़राब ना होने दे, जब भी लगे की कुछ गलत हो रहा हैं या हो सकता हैं, थोड़ी देर के लिए घूमने चले जाए।

भगवान में ध्यान लगाए

जिसने अपना ध्यान ईश्वर में लगा दिया, उसका mood दुनिया में कोई ख़राब नहीं कर सकता हैं क्योंकि जो जीवन की वास्तविकता को समझ चुका हैं, वह दुनिया के लोगो से ज्यादा भगवान् में अपने आप को लगाता हैं। पूजा पाठ करना इसलिए भी जरुरी हैं क्योंकि जब आप पूजा करते हैं तो आपको एक ऐसी शक्ति मिल जाती हैं जिससे आप अपने जीवन की हर समस्या को ज्यादा अच्छे से मैनेज कर लेते हो।

पॉजिटिव मेन्टल ऐटिटूड की बुक्स पढ़े

किताबें हमे सीखाती हैं की सबके साथ कैसे रहे, कैसे बात करे, क्योंकि आज दुनिया में बहुत सारे लोगो को यही नहीं पता हैं की बात कैसे की जाए।

अच्छी बात करने से मतलब ये हैं की जब आप अपना मुँह खोले तो आपकी बात से कोई दुखी ना हो, कोई परेशान ना हो, आज दुनिया में ऐसे हजारों लोग मिल जाएंगे तो आपको डिमोटिवेट करेंगे, जो आपको कहेंगे की तुम ये नहीं कर पाओगे, मतलब हर काम में नेगेटिव, तो ऐसे लोगो से बचने के लिए और बहुत सारे लोगो की हेल्प करने के लिए सबसे पहले आपको अपने दिमाग को हेल्थी रखना होगा। प्रतिदिन कुछ ना कुछ पढ़ने की आदत डाले, जिससे आप अन्य लोगो की जिंदगी में भी कुछ वैल्यू ऐड कर पाए।

Share This :