How to understand fake people जैसा की ये दुनिया में भांति-भांति के लोगो से भरी पड़ी हैं , कुछ इतने सच्चे होंगे जो एक खुली किताब के जैसे और कुछ लोग ऐसे होते हैं जो नकली होते हैं, मतलब जो दिखते हैं वह नहीं होते हैं। झूठें लोग और ड्रामेबाज लोग भी इस दुनिया में कम नहीं होते हैं, ऐसे में किसी को जज करना बहुत मुश्किल होता हैं। जब तक आप किसी भी व्यक्ति को हर तरह से चेक नहीं करेंगे तब तक आप किसी को भी समझ नहीं पाएंगे अक्सर हम जिन लोगों को बहुत मासूम और आसान समझते हैं वह वास्तव में अंदर में बहुत ही शातिर और मक्कार होते हैं, ऐसे लोग समझ में सिर्फ अच्छे होने का दिखावा करते हैं।

Fake people कभी भी सही बात को नहीं बताते हैं, वह सिर्फ उतना ही बताते और कहते हैं जिनसे उनका फायदा हो, उन्हें सिर्फ अपने प्रॉफिट से ही मतलब होता हैं और किसी पर वह कुछ भी ध्यान नहीं देते हैं। ऐसे लोग आपके साथ ऊपरी दिखावा तो ऐसा करेंगे की आप भी कंफ्यूज हो जाएंगे की ये हो क्या रहा हैं।

सचमुच किसी को समझना आसान नहीं होता हैं, कभी -कभी तो जिंदगी लग जाती हैं, किसी को समझने में, और कभी -कभी तो कुछ लोग समझ ही नहीं पाते हैं की वास्तव में उनके साथ हुआ क्या था। ऐसे लोग ज्यादातर सभी के साथ अपना व्यवहार बहुत ही अच्छा रखते हैं पर पीठ पीछे एक दूसरे की बुराई भी करते हैं जिससे वह बुराई करके सामने वाले के दिल में अपनी एक जगह बना पाए।

How to understand fake people
How to understand fake people

Fake People हमेशा सभी लोगो की बातों को सुनने में बहुत ज्यादा इंटरेस्टेड रहते हैं क्योंकि वह ऐसा हर व्यक्ति को दिखाते हैं की वह उसे कितना ज्यादा इम्पोर्टेंस दे रहे हैं, आप कह सकते हैं की बिना मतलब के ये कभी भी बात नहीं करते हैं और इन्हे बहुत अच्छी तरह पता होता हैं की कब किससे और कैसे काम निकालना हैं , ये बहुत चतुर होते हैं और अपनी चतुराई से ये किसी को भी आसानी से बेवकूफ बना देते हैं।

Fake Peoples की पहचान

Fake Peoples को पहचाने के लिए नीचे बताई गयी बातों को ध्यान से पढ़े –

बातों को बहुत बढ़ा चढ़ाकर बोलना

ऐसे लोग हर बात को इतना घुमा फिरा कर कहेंगे की आप समझ ही नहीं पाएंगे की वह क्या कह रहे हैं और जब तक आप समझ पाएंगे तब तक बहुत देर हो जायेगी।

हर किसी की बात को इधर -उधर करना

ये एक बात को दूसरे से कहना, और सबके सगे बने रहना इनकी बहुत बड़ी और मुख्य विशेषता होती हैं , ये सामने से किसी को कुछ भी नहीं कहते हैं पर पीठ पीछे बुराई करके अपना और दूसरों का मूड और समय दोनों बर्बाद करते हैं।

मन से मैले होना

ये अंदर से ख़राब मन के होते हैं, ऐसे लोग किसी की भी ख़ुशी को नहीं देख सकते हैं, और लोगों के पैर पे पैर रखना इनकी ख़ास आदत होती हैं। सामने से भले बनने का नाटक करना और पीठ पीछे अति रख देना।

अच्छे होने का दिखावा करना

ऐसे लोग इतने प्यार और विश्वास से बोलेंगे की आप उनकी हर बात पर भरोसा कर लेंगे , आप उनके इस फेर को नहीं समझ पाएंगे, इसलिए थोड़ा अलर्ट रहे, ज्यादा जल्दी किसी पर विश्वास ना करे, जब तक की आप उन्हें पूरी तरह से समझ ना ले।

आप अपने अपने ऊपर विश्वास रखे, ना की दूसरों पर , जो भी करे उसे पूरी तरह से सोच समझकर करे।

Share This :