Tips for Relationship जो हम सब के लिए अनमोल हैं ।  ये रिश्ते ही हैं जो हमे एक दूसरे से जोड़ कर रखते हैं ।  ये रिश्ते ही हैं जो समय – समय पर हमारा ध्यान रखते हैं ।  हर रिश्ता अपने आप में एक अलग पहचान रखता हैं, भाई बहन का रिश्ता, माँ – बाप का रिश्ता और पति पत्नी का रिश्ता , इन सभी रिश्तों में पति पत्नी का रिश्ता भी कुछ तीखा और कुछ मीठा होता हैं ।  इस रिश्ते में प्यार हैं तो तकरार भी हैं, इस रिश्ते में प्रशंशा हैं तो शिकायत भी हैं, इस रिश्ते में एक्सपेक्टेशन हैं भी और नहीं भी । 

पति – पत्नी का रिश्ता जिस  में बहुत से उतार – चढ़ाव और बहुत सी नोक -झोंक भी होती हैं, और कभी – कभी ये छोटी मोटी नोक – झोक और लड़ाई – झगड़ा इतना ज्यादा भयानक रूप ले लेता हैं , की एक बसा बसाया घर टूटने की कगार पर आ जाता हैं ।  लाइफ में कोई भी रिलेशन हो और कितना भी मजबूत ही क्यों ना हो , पर कभी – कभी एक छोटी सी गलतफहमी एक अच्छे खासे रिश्ते को तोड़ देती हैं ।  ये बात बिलकुल सच हैं की रिश्तों के बिना जीना बहुत मुश्किल होता हैं ।

आज हम इसी पर विचार करेंगे की हम अपने जीवन साथी , जिसके साथ जीने और मरने की कस्मे खायी, और जिसके साथ सामाजिक तौर पर पवित्र अग्नि के सामने साथ फेरे लिए और जीवन पर्यन्त साथ देने का वादा किया , ऐसे में क्या एक छोटी सी बात के लिए अपने इस अनमोल रिश्ते को तोड़ देना सही होगा , शायद नहीं ।  आज ऐसी ही कुछ टिप्स हैं जो पति और पत्नी को एक दूसरे के लिए करनी हैं  ।

पति और पत्नी की रिलेशनशिप को स्ट्रांग करने की टिप्स

Tips for Relationship
Tips for Relationship
  1. एक दूसरे का सम्मान करे ।
  2. एक दूसरे की केयर करे ।
  3. एक दूसरे की बात को सुने और समझने की कोशिश करे ।
  4. एक दूसरी की छोटी – छोटी गलतियों को इग्नोर करे ।
  5. एक दूसरे से दिल की बात करें ।
  6. एक दूसरे से बातें ना छुपाये।
  7. एक दूसरे के पीठ पीछे बुराई ना करे, जो भी कहना सामने कहे ।
  8. एक दूसरे के प्रति ईमानदार रहे ।
  9. एक दूसरे की भावनाओ की क़द्र करे ।
  10. एक दूसरे का बर्थडे, मैरिज एनिवर्सरी और ख़ास मौको को याद रखे, और सबसे पहले विश करे ।
  11. एक दूसरे को लिए सरप्राइज गिफ्ट दे ।
  12. एक दूसरे की इज्जत करे ।
  13. एक दूसरे से लड़ाई – झगड़ा ना करें , अगर कोई बात हैं तो आराम से बैठकर निष्कर्ष पर पहुंचे ।
  14. लाइफ में कोई भी समस्या हो एक दूसरे की ताकत बने ।
  15. एक दूसरे की फैसले की क़द्र करें ।
  16. एक दूसरे की कमियों को ना गिनाये बल्कि अच्छाइओ को गिनवाए ।
  17. एक दूसरे के प्रति प्यार रखे, अच्छे भाव रखे , अपने मन से प्यार को कभी ख़तम ना होने दे ।
  18. एक दूसरे पर चिल्लाए नहीं बल्कि थोड़ा ठन्डे दिमाग से काम ले ।
  19. एक दूसरे का ख़याल रखे।
  20. एक दूसरे की छोटी – छोटी बातों और जरूरतों का ख्याल रखे।
  21. एक दूसरे की फीलिंग्स और इमोशंस को समझे।
  22. आपस में समय दे।
  23. एक दूसरे की साथ डेट पर जाए।
  24. अपने पास्ट को प्रेजेंट में डिसकस ना करे।
  25. एक दूसरे के साथ घूमने जाए, क्वालिटी टाइम स्पेंड करे, एक दूसरे की तारीफ़ करे ।
  26. एक दूसरे को मोटीवेट करे, क्योंकि आपको पता हैं कोई बाहर वाला कभी भी आपकी तारीफ़ नहीं करेंगा । अगर कोई कमी भी लगे तो अकेले में बताये , पति पत्नी एक दूसरे का आयना होते हैं, जो भी गलती करे, वह अपनी गलती को स्वीकार करे, और बात को वही पर ख़तम कर दे , सॉरी बोलने से कभी कोई छोटा नहीं होता हैं ।
  27. एक दूसरे को मेंटली, फिजिकली और financially सपोर्ट करें , एक दूसरे की ताकत बने, अगर दोनों में से कोई अकेला महसूस कर रहा हैं तो ये बात गलत हैं , अपने सुख और दुःख को बांटें ।
  28. हमेशा हस्ते रहने के लिए बोले , क्योंकि जैसे – जैसे maturity आती हैं हम सब उतना ही serious होते चले जा रहे हैं, ये भी सही नहीं हैं, लाइफ में  खुलकर मस्ती करें ।
  29. एक दूसरे की काम में हेल्प करे, चाहे वह ऑफिस हो या घर , जो कुछ भी उसे मिल बाँट कर ले ।  पति – पत्नी सुख -दुःख के साथी होते हैं, ना की
  30. दोनों में से कोई एक ही सब संभाले, ये सही नहीं हैं , जो लोग ऐसा सोचते हैं, की सारी जिम्मेदारी सिर्फ एक ही इंसान की हैं, तो ये भी गलत हैं, एक अकेला इंसान सारा प्रेशर क्यों ले , इसलिए एक दूसरे से बात करते रहे और सही सिचुएशन बताते रहे। 
  31. कितना भी बिजी हो थोड़ा बात जरूर करे, इससे आप एक दूसरे को और अच्छे से समझ भी पाएंगे और अगर कोई बात या परेशानी होगी तो वह भी सामने निकल कर आ जाएंगी ।

स्वरचित Poem on Husband-Wife relationship
(पति-पत्नी के रिश्ते पर कविता)

शादी एक बंधन नहीं हैं, ये तो दो दिलों का मेल हैं,

ना माना किसी को दिल से अपना तो ये झमेल हैं ,

क्यों ना इस जिंदगी को और खूबसूरत बना दे ,

बहुत हो गयी ये नोक -झोंक क्यों ना हम फिर से मुस्करा दे,

कुछ तुम मेरी आदतों को अपना लो, कुछ मैं तुम्हारी आदतों को अपना लू ।

कुछ तुम मुझे अपना बना लो, कुछ मैं तुम्हे अपना बना लू ।

कुछ तुम मेरे सपने पूरे करो, कुछ मैं तुम्हारे सपने पूरे करू ।

कुछ तुम मेरे लिए जिओ , कुछ मैं तुम्हारे लिए जियू ।

जी लिया बहुत अपने लिए , अब क्यों ना एक – दूसरे के लिए जिए ।

ये उम्र गुजरी जा रही हैं, आ थोड़ा प्यार कर लू ।

तेरी हर झूठी बात पर भी आज ऐतबार कर लू ।

एक – एक पल को  जियू , आंखों में हजारों सपने बुनू ।

तुम समझ जाओ मेरी हर बात चाहे मैं कुछ ना कहूँ ।

कभी प्यार तो कभी गुस्से से इजहार करू,।

एक तुम ही तो हो जिसपे सबसे ज्यादा ऐतबार करू।

मेरे इस ऐतबार को तुम यूं ही बनाये रखना ।

गम कितने भी पर तुम जिंदगी सजाये रखना।

साथ ना छोड़ेंगे हम चाहे मुश्किलें लाख आये।

दिल में तेरे लिए तमन्नाये तमाम आये ।

Share This :