Why is it important to share your feelings आज हम बात करेंगे की अपनी भावनाओं को साझा करना क्यों महत्वपूर्ण है, जिंदगी को इतनी भी संजीदगी से ना जिए की अंदर ही अंदर घुट जाए। जिंदगी को खुलकर जिए, बिंदास जिए, कल की चिंता में अपना आज ना खोये।

सबसे पहले तो ये समझ लीजिये की जीवन में ऐसा कोई काम ना करे जिसे आपको सबसे छुपाना पड़े, अपने जीवन को खुली किताब की तरह रखे। जब आप पूर्ण रूप से अच्छे होंगे तो आप ना ही किसी से डरेंगे और ना इन्सेक्युरिटी फील करेंगे।

अपनी फीलिंग्स को शेयर करना इसलिए भी बहुत जरुरी हैं क्योंकि किसी भी समस्या को आप अकेले नहीं फेस कर सकते हैं पर यदि आप अपने प्रियजनों से अपनी प्रॉब्लम को शेयर करेंगे तो आपको कोई ना कोई सलूशन जरूर मिल जाएगा।

आज बहुत सारे लोग दुनिया में ऐसे हैं जो अपनी समस्या को किसी से नहीं कह पाते हैं और उसकी वजह से अंदर ही अंदर किसी ना किसी बीमारी का शिकार हो जाते हैं और कुछ लोग तो इतना ज्यादा परेशान हो जाते हैं की वह अपनी जिंदगी को खोने के लिए भी तैयार हो जाते हैं।

Why is it important to share your feelings
Why is it important to share your feelings

जिंदगी बहुत मुश्किलों से मिली हैं, इसे कभी भी खोना नहीं हैं , एक बात और भी हैं कोई भी समस्या इतनी बड़ी नहीं हैं जिससे बाहर ना निकला जा सके।

अपनी feelings को शेयर करना क्यों इम्पोर्टेन्ट हैं , ये समझिये –

  • यदि आप अपने मन की बात किसी से नहीं कह पाएंगे तो आप अंदर ही अंदर अपने आप से हर दिन एक युद्ध लड़ते रहेंगे।
  • Feelings को शेयर करने से आप अपनी समस्या का निदान पा सकते हैं।
  • जब आप अपनी feelings शेयर करेंगे तो आपका मन बहुत हल्का हो जाएगा और आप अकेला फील नहीं करेंगे।
  • एक से भले दो, यदि आप अकेले ही किसी प्रॉब्लम को फेस कर रहे हैं, तो उसे आप अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से साझा करे, जिससे सलूशन तो मिलेगा ही आपको भी मनोबल बढ़ेगा।
  • जब आप अपनी प्रोब्लेम्स सबसे नहीं कहते हैं, और किसी एक को आपने अपनी कोई प्रॉब्लम बताई हैं तो वह आपका फायदा भी उठा सकता हैं इसलिए अपनी प्रोब्लेम्स को सदैव 2-4 लोगो से शेयर करे।
  • आपकी प्रॉब्लम कोई नयी नहीं हैं, जब आप अपने आस -पास के लोगो से बात करेंगे तो आपको पता चलेगा की वह आपकी समस्या से ज्यादा समस्या में हैं, तो इससे आपको सीखने को मिलेगा की आप दुनिया में स्पेशल नहीं नहीं जो प्रॉब्लम में हैं। आज अगर अपने आस -पास देखेंगे तो हर दूसरा इंसान कोई ना कोई प्रॉब्लम से जूझ रहा हैं।
  • बातों को छुपाना भी एक तरह से गलत हैं क्योंकि आज आप जितना छुपायेंगे कल आपको उतनी ही परेशानी होने वाली हैं , और यदि आपको अचानक कुछ हो गया तो बहुत सारे लोग तो आपकी जिंदगी की हकीकत को समझ ही नहीं पाएंगे, इसलिए खुल के जियो और खुल के बोलो, इसलिए कहा जाता हैं की जो लोग ज्यादा बोलते हैं वह कभी भी कोई बात अपने मन में नहीं छुपाते हैं और ऐसे लोगो से जल्दी कोई पंगा नहीं लेना चाहता हैं।
  • हम सब को बचपन से ही अपनी feelings को शेयर करने की आदत बनानी चाहिए, जिससे जब भी आप जिंदगी में खुद को किसी प्रॉब्लम में पाए तो उस समय आप अपने अपनों के साथ बेधड़क बात कर सके और ये ना सोचे की सब क्या कहेंगे, सब मुझपे हँसेंगे इत्यादि।
  • ये भी समझ लीजिये की आप कोई भगवान् नहीं हैं जो आपके साथ समस्या नहीं हो सकती हैं , आज जो किसी के सामने देख रहे हैं वह कल आपके साथ भी हो सकता हैं, इसलिए दूसरों के अनुभवों से सीखते रहिये और जिंदगी में सदैव आगे बढ़ते रहिये।

जब कोई अपनी feelings शेयर करे तो आपको क्या करना चाहिए –

  • जब आपसे कोई अपनी feelings को शेयर करे, तो उसका मजाक ना बनाये और ना ही उसे ताने दे की मैंने तो कहा था तुमने सुना नहीं इत्यादि।
  • आज ज्यादातर लोग इस बात से डर के भी अपनी बात को किसी के सामने नहीं रख पाते हैं की लोग क्या कहेंगे, क्या सोचेंगे, इसलिए ध्यान रहे जब भी लाइफ में कोई आपको अपना समझकर कुछ भी आपसे शेयर करे तो उस पर हंसना नहीं बल्कि आपसे जो हो सके उसके लिए वह करना, कुछ नहीं तो एक अच्छी और सही राय देना , जो आज कल के समय में सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण हैं।
  • सदैव इस बात का भी ख्याल रखना की गलतिया इंसान से होती हैं ना की भगवान् से, इसलिए जब आपके पास कोई जिंदगी का मारा, जिंदगी का सताया कोई भी व्यक्ति आये तो उसे आप अपनी बातों से और मत सताना बल्कि उसे सही राह दिखाना।
  • मैंने बहुत लोगो को देखा हैं जैसे ही आप उनसे अपनी प्रॉब्लम को शेयर करेंगे तो वह आपको उपाय नहीं बताएँगे बल्कि आपको ही उल्टा कहने लगेंगे की इसके लिए आप ही जिम्मेदार हैं और ये बहुत बड़ा कारण हैं जिसके कारण ही लोग आत्म हत्या जैसे अपराध के लिए तैयार हो जाते हैं क्योंकि उस समय जब आपको कोई दरवाजा खुला नहीं दिखाई देगा तो आप कुछ गलत ही सोचेंगे और करेंगे , इसलिए जब भी आप किसी की हेल्प कर सके तो जरूर करे क्या पता आपकी एक बात से किसी की जिंदगी भी बच जाए और उसे जीने का नया रास्ता भी मिल जाए।
  • जब भी आपसे कोई अपनी feelings को शेयर करे, फिर चाहे वह ख़ुशी की फीलिंग्स हो या फिर दुःख की फीलिंग्स हो, आप उस समय उस व्यक्ति को ध्यान से सुने, ऐसा ना हो की आपकी इग्नोरेंस का सामने वाले पर गलत प्रभाव पड़े। आज के समय में वही व्यक्ति आपसे अपने मन की बात करेगा जो दिल से आपसे अटैच होगा या फिर जिसे ऐसा महसूस होगा की आप उसकी कुछ हेल्प कर सकते हैं।

अपनी फीलिंग्स को किसी से ना शेयर करने के परिणाम

  • आप शारीरिक और मानसिक दोनों रूप से खुद को बीमार पाएंगे।
  • किसी काम में मन नहीं लगेगा, चाहे जितना ही खुशहाली का माहौल ही क्यों ना हो आपको कही चैन नहीं आएगा।
  • आपके चेहरे से लोग आपकी उदासी को देख लेंगे आप चाहे जितना कहे की मैं ठीक हूँ, पर आपका चेहरा सब कुछ बता देगा।
  • हो सकता हैं आप सिचुएशन को अच्छे से मैनेज ना कर पाए और किसी बड़ी समस्या में पड़ जाए।
  • आप अंदर ही अंदर परेशान रहेंगे और जिसका सीधा असर आपके जीवन और आपके रिलेशन पर भी पड़ेगा।
  • आप ना ही खुद का ध्यान रख पाएंगे और ना ही अपने परिवार का ध्यान रख पाएंगे।

अपनी feelings को खुल कर शेयर करे, ये ना सोचे कोई क्या कहेगा। जब आप ठीक रहेंगे तभी आप इस कीमती जीवन को enjoy कर पाएंगे इसलिए जिंदगी को खुलकर जियो।

Share This :