Why Relationships fail, जबकि हर कोई अपनी सोच और समझ के हिसाब से अपने रिश्ते को और अच्छा करने में लगे रहते हैं। हम सब अनेको रिश्तों की डोर से बंधे हैं और रिश्तों की ये डोर किसी रिश्ते में मजबूत और किसी रिश्ते में बहुत कमजोर लगती हैं ।

आज अकेलापन हर रिश्ते में हैं, हर कोई कही ना कही किसी रिश्ते में अपने आप को कमजोर पा रहा हैं, फिर रिश्ता चाहे दोस्ती को हो, परिवार का हो, या फिर रिश्तेदारों का हो। कोई भी व्यक्ति ये नहीं कह सकता हैं की सारे रिश्तेदार उससे खुश हैं या वह सबसे खुश हैं ।

क्यों ये दूरिया हैं, क्यों ये संकोच हैं, क्यों ये परेशानी हैं, जबकि हर कोई अपनी मेहनत और किस्मत का खा रहा हैं । ये सवाल हर व्यक्ति के मन में आता होगा की जब हम सब छोटे थे , तब तो हर रिश्ते में अपनापन था , प्यार था फिर आज ऐसा क्या कर दिया हमने, ऐसी कौन सी गलती हो गयी, जो इतना अकेले हो गए।

आज इस परेशानी से कोई एक व्यक्ति नहीं जूझ रहा हैं, बल्कि हर कोई जूझ रहा हैं । ये समस्या ऐसी हैं की कोई इस पर खुल कर बात नहीं करना चाहता हैं । आज रिश्ते दिखावे के हैं, उनमे सच्चाई नहीं हैं , ऐसे में जो वास्तव में अच्छे लोग हैं, वह सबसे ज्यादा परेशान होते हैं क्योंकि उनसे ये दिखावा भी नहीं होता हैं । जो सच बोलेगा वह हमेशा कडुवा होगा और जो झूठ बोलेगा वह हमेशा मीठा होगा। इसलिए किसी भी रिश्ते का माप दंड बहुत ही मुश्किल काम हैं ।

Why Relationships fail

Relationships fail होने के कारण

आज ज्यादातर Relationships fail होने के कुछ विशेष कारण हैं, जिसके बारे में नीचे बताया गया हैं ।

समय की कमी

आज किसी के पास किसी के लिए समय नहीं हैं। आज लोग बस समय उसी के लिए निकालते हैं जो काम आये । मतलब साफ़ हैं, अगर आपको कोई इम्पोर्टेंस नहीं दे रहा हैं तो आप ये मत सोचे की आपमें कोई कमी हैं । आप में कोई कमी नहीं हैं, बस कमी हैं तो ये आप किसी के काम नहीं आ रहे हैं ।

आजकल ज्यादातर लोग मतलबी हो गए हैं, जब तक उनका मतलब नहीं निकलेगा तभी तक वह आपसे रिश्ता रखेंगे और जैसे ही काम निकल जाएगा वह आपको अनदेखा करना स्टार्ट कर देंगे ।

आप भी किसी भी रिश्ते में अकेलापन फील कर रहे हैं, तो उस रिश्ते के न चलने का पूरा क्रेडिट खुद को ना दे और अपने आप को बेकार में कोसना बंद करे ।

समय की कमी किसी के पास नहीं हैं, बस इंसान की value हिसाब से आज कल लोग मिलना – जुलना पसंद करते हैं । आप आराम से अपनी life में खुश रहे, और ज्यादा से ज्यादा अपने आप को बिजी रखे ।

जो लोग कहते हैं, की मेरे पास समय नहीं हैं , तो समय क्या किसी के लिए अलग -अलग बना हैं। समय की सीमा तो प्रकृति के द्वारा निर्धारित हैं , जिसमे कोई भी छेड़ छाँड़ नहीं कर सकता हैं, फिर ऐसे में समय नहीं हैं, ये कहना गलत हैं।

समय किसी के पास नहीं होता हैं, समय को निकालना पड़ता हैं ।

अगर आप समय को सही से manage नहीं कर पा रहे हैं, तो इसके जिम्मेदार आप ही हैं , और कोई नहीं हैं । सबसे पहले अपनी lifestyle और daily routine को ठीक करें, जिससे आप अपने टूटते रिश्तों के लिए भी थोड़ा सा समय निकाल सके और अपने रिश्तों को बचा सके।

एक दूसरे पर विश्वास ना होना

जब किसी भी रिश्ते में विश्वास की कमी होगी , तो वह रिश्ता ना तो मजबूत होगा और ना लम्बे समय तक चलेगा।

आज ज्यादातर लोग सुनी सुनाई बातों पर विश्वास कर लेते हैं । अगर आपको कोई कुछ बता रहा हैं, तो जरुरी नहीं हैं की उसकी हर बात सच हो इसलिए अपनी रिश्तों में विश्वास बनाये रखे ।

विश्वास इतना पक्का होना चाहिए की कोई भी उसे ना तोड़ पाए । कभी भी एक तरफा बात को ज्यादा importance ना दे । हर व्यक्ति को सुने और समझे उसके बाद अपने विवेक से निर्णय ले ।

रिश्ता किसके साथ रखना हैं और किसके साथ नहीं रखना हैं, ये निर्णय पूर्ण रूप से आपका हैं , पर ऐसा न हो की किसी भी रिश्ते को चलाने में आपसे कोई भूल हो जाए , इसलिए विश्वास की डोर को मजबूत रखिये।

अत्यधिक सोचना

ज्यादा सोचने वाले लोग हर रिश्ते को बहुत ही observe करते हैं, उसके क्या कहा , क्यों कहा, ऐसा क्यों कहा, ऐसा नहीं कहना चाहिए था, इत्यादि ।

आज हर कोई अपने आप में busy हैं, ऐसे में over thinking करके अपनी ही तबियत ख़राब होगी , जिसे जो करना हैं, वो करेगा ।

आज ये भी बहुत बड़ा सच हैं की किसी को किसी की फिक्र नहीं हैं, तो ऐसे में आप किसी भी रिश्ते में अपने आप को इतना निर्भर ना बनाये। कोई बात करें, तो ठीक हैं।

हर चीज को आप सही भी नहीं कर सकते हैं । आप अपना आत्म सम्मान बचाकर जितना भी रिश्तों को चला सकते हैं, चालिए, पर बात जब सम्मान पर आ जाए , तो सिर्फ अपने आत्म सम्मान को महत्व देना । क्योंकि relationships के बिना आप जी सकते हैं , पर आत्म सम्मान के बिना आप जी नहीं पाएंगे।

गरीबी और बेकारी

आज गरीबी और बेकारी भी एक बड़ा कारण हैं । यदि आप गरीब हैं, तो आपके कोई दोस्त नहीं होंगे , कोई रिश्तेदार नहीं होंगे , पर जैसे ही आप सफल होंगे तो आपके दूर के रिश्तेदार भी आपको अपना बताएँगे। इस सच्चाई से भागा नहीं जा सकता हैं ।

यदि आपके पास कम पैसे हैं, तो ज्यादा तर आपके रिश्तेदार आपसे इसलिए भी दूर रहेंगे की आप कही उनसे पैसे ना मांग ले । आज सफल रिश्तेदार, असफल रिश्तेदार से इतनी दूरिया बना लेते हैं की आप उनसे कुछ कह ही ना पाओ । आज लोग स्टैण्डर्ड देख कर बात करते हैं। रिश्तों को अहमियत लोग आपके स्टैण्डर्ड के हिसाब से देंगे।

यदि आप के पास पैसे नहीं हैं, तो आपका कोई भी सफल रिश्ते दार ये नहीं कहेगा की वह आपकी हेल्प कर देगा , और जब आपके पास हो तो आप उसे वापस कर देना ।

बहुत ज्यादा expectations होना

Relationships में fail होने का reason, ये भी हैं, की आजकल हर किसी की expectations बहुत ज्यादा हैं, और जब वह expectations पूरी नहीं होती हैं, तो रिश्ते फ़ैल हो जाते हैं ।

इसलिए जीवन की वास्तविकता को समझो। अपने आप में खुश रहो।

Share This :